टूट की ओर

टूट की ओर

0

पार्टी के भीतर और राष्ट्रीय राजनीति में भी शरद यादव का जो कद रहा है, उसमें स्वाभाविक ही उनके लिए बिना कुछ सोचे-समझे नीतीश कुमार के अपने स्तर पर लिये गए फैसले के साथ जाना मुश्किल था।

The post टूट की ओर appeared first on Jansatta.

Read More : टूट की ओर
Courtesy : Jansatta – editorials

LEAVE A REPLY