प्रदूषण पर्व: धुंध ने महज राजनेताओं को ही धुंधकाया नहीं है, बल्कि...

प्रदूषण पर्व: धुंध ने महज राजनेताओं को ही धुंधकाया नहीं है, बल्कि पब्लिक भी धुंधायमान हो गई

0

मुझे तो लगता है कि कि अभी प्रदूषण पर्व के महत्व को कायदे से समझा नहीं गया है। शायद भविष्य में इसे समझ लिया जाए।

Read More : प्रदूषण पर्व: धुंध ने महज राजनेताओं को ही धुंधकाया नहीं है, बल्कि पब्लिक भी धुंधायमान हो गई
Courtesy : Jagran – Apni Baat

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.