संपादकीयः संबोधन और सवाल

संपादकीयः संबोधन और सवाल

0

प्रधानमंत्री ने एक बार फिर डिजिटल अर्थव्यवस्था की वकालत की है। शुक्रवार की सुबह भाजपा के संसदीय दल को संबोधित करते हुए उन्होंने जहां विपक्ष को इस बात के लिए कोसा कि वह भ्रष्टाचार के विरुद्ध मुहिम में सरकार के साथ नहीं है, वहीं अपनी पार्टी के सांसदों की हौसलाआफजाई करते हुए कहा कि विमुद्रीकरण सरकार का आखिरी कदम नहीं है।

The post संपादकीयः संबोधन और सवाल appeared first on Jansatta.


Source : संपादकीयः संबोधन और सवाल
Courtesy : Jansatta

LEAVE A REPLY