सियासी दल पहले स्वयं को सुशासित करें फिर आंतरिक लोकतंत्र की स्थापना...

सियासी दल पहले स्वयं को सुशासित करें फिर आंतरिक लोकतंत्र की स्थापना करें

0

आज भारत का पढ़ा-लिखा तबका भी यह मानने लगा है कि राजनीति एक गंदी चीज है। वह चूंकि साफ-सुथरी हो ही नहीं सकती, लिहाजा उससे बचकर रहना चाहिए।

Read More : सियासी दल पहले स्वयं को सुशासित करें फिर आंतरिक लोकतंत्र की स्थापना करें
Courtesy : Jagran – Apni Baat

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.